Home Uncategorized 31 मार्च से पहले करें FMP में निवेश, FD से ज्यादा होगी...

31 मार्च से पहले करें FMP में निवेश, FD से ज्यादा होगी कमाई

488
0

म्यूचुअल फंड अडवाइजर्स निवेशकों को तीन वर्ष के फिक्स्ड मच्योरिटी प्लान्स (एफएमपीज) में पैसे लगाने की सलाह दे रहे हैं। उनका कहना है कि वित्त वर्ष के आखिर में एफएमपीज में तीन साल से थोड़ा ज्यादा वक्त के लिए निवेश करने में समझदारी है। इस वजह से तीन साल से थोड़े से ही ज्यादा वक्त के निवेश पर निवेशक को चार साल के इंडेक्सेशन का फायदा मिल जाता है।

एफएमपीज क्लोज-एंडेड फंड्स होते हैं जो बॉन्ड्स और अन्य सिक्यॉरिटीज में निवेश करते हैं। हालांकि वे निश्चित रिटर्न नहीं देते, फिर भी वे अपने पोर्टफोलियोज में शामिल बॉन्ड्स यील्ड्स से अक्सर बराबरी करते हैं। जीईपीएल कैपिटल के डिस्ट्रीब्यूशन हेड रूपेश भंसाली ने कहा, ‘AA रेटिंग वाले बॉन्ड्स में ज्यादा निवेश वाले पोर्टफोलियोज से 8% तक की कमाई हो सकती है जबकि सिर्फ AAA रेटिंग वाले बॉन्ड्स से 7.25-7.5% की अर्निंग हो सकती है।’

किसमें ज्यादा रिटर्न?
बड़ा फायदा तीन साल से ज्यादा वक्त के एफएमपीज से हुई कमाई पर कम टैक्स लगना है। फिक्स्ड डिपॉजिट से मिले ब्याज को निवेशक की आय में जोड़कर सामान्य दर से टैक्स लगाया जाता है जबकि तीन साल से ज्यादा वक्त के एफएमपीज से हुई कमाई को लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स मानकर 20% का टैक्स वसूला जाता है, लेकिन इसमें इंडेक्सेशन का फायदा मिलता है।

सिट्रीन फाइनैंशल अडवाइजर्स के पार्टनर प्रशांत मौर्य बताते हैं, ‘अगर आपने 31 मार्च से पहले 1,140 दिन के एफएमपी में निवेश कर दिया तो आप इसे तीन साल से थोड़ा ज्यादा वक्त के लिए ही रखेंगे, लेकिन आप चार वर्षों के इंडेक्शन का लाभ पाने के दावेदार हो जाएंगे।’ मोतीलाल ओसवाल वेल्थ मैनेजमेंट के इन्वेस्टमेंट अडवाइजरी हेड आशीष शंकर का कहना है, ‘अति धानढ्य लोगों (एचएनआईज) में 31 मार्च से पहले एफएमपीज में निवेश करने की होड़ मची है।’